Browse songs by

tuune ye phuul jo zulfo.n me.n sajaa rakhaa hai

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


तूने ये फूल जो ज़ुल्फ़ों में सजा रखा है
इक दिया है जो अंधेरों में जला रखा है

जीत ले जाये कोई मुझको नसीबों वाला
ज़िंदगी ने मुझे दाँव पे लगा रखा है

जाने कब दिल में कोई झाँकने वाला आ जाये
इस लिये मैंने गिरेबान खुला रखा है

इम्तिहाँ और मेरे ज़ब्त का तुम क्या लोगे
मैंने धड़कन को भी सीने में छुपा रखा है

दिल था इक शोला मगर बीत गये दिन वो 'क़तील'
अब कुरेदो ना इसे राख़ में क्या रखा है

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image