Browse songs by

merii aa.Nkho.n me.n aakar samaayaa hai tuu

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


मेरी आँखों में आकर समाया है तू
मुझको आठों पहर है तेरी जुस्तजू

गोरे मजनूं से लैला ने जाकर कहा
क़ुश्ता-ए-नाज़ बाक़ी है अब दिल में क्या
गोरे मजनूं से उस वक़्त आई सदा
बस तेरी जुस्तजू है तेरी जुस्तजू
मुझे आठों पहर ...

अब मैं समझा कि बुलबुल है नाशाद क्यों
जल के परवाना होता है बरबाद क्यों
कैसे जंगल में क्यों कोह में फ़रियाद क्यों
जिसको देखा उसे है तेरी जुस्तजू
मुझे आठों पहर ...

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image