Browse songs by

laaj bhare in nainan me.n adhik sudhaa bharo naa

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


लाज भरे
( लाज भरे इन नैनन में
अधिक सुधा भरो ना
सखि अधिक सुधा भरो ना ) -२

रसिक रिदय की विव्हलता को उग्र अधिक करो ना -२
करो ना -३

लाज भरे इन नैनन में
अधिक सुधा भरो ना
सखि अधिक सुधा भरो ना

अंग उपर नव-यौवन धर कर -२
रस भरे अधर उपर अमृत झर कर
रस भरे -२

रस भरे अधर उपर अमृत झर कर
हे मनमोहिनी -२
मेरे मन को मूरछित अब करो ना
करो ना -३

लाज भरे इन नैनन में
अधिक सुधा भरो ना
सखि अधिक सुधा भरो ना

हे ललना छल करो ना
हे ललना
हे ललना छल करो ना
छलक-छलक इतना धरो ना -२
पल-पल रूप-झलक झलका कर
चित्त चलित करो ना
करो ना -३

लाज भरे इन नैनन में
अधिक सुधा भरो ना
सखि अधिक सुधा भरो ना

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image