Browse songs by

kuchh phuul khile aramaano.n ke

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


( कुछ फूल खिले अरमानों के
पर जी भर के मुसका न सके ) -२
दिल रो-रो ख़ून हुआ फिर भी -२
आँखों में आँसू आ न सके
कुछ फूल खिले अरमानों के

( जाने ये बंधन कब छूटे
दुख की ज़ंजीरें कब टूटें ) -२
देखो क़िसमत की मजबूरी -२
वो आ न सके हम जा न सके
देखो क़िसमत की मजबूरी


मेरा उजड़ा है गुलशन खिल के
हाय बिछड़े हैं दो दिल मिल के -२
वो हमको पा कर खो बैठे -२
हम उनको खो कर पा न सके

कुछ फूल खिले अरमानों के
पर जी भर के मुसका न सके
कुछ फूल खिले अरमानों के

Comments/Credits:

			 % Song courtesy: http://www.indianscreen.com (Late Shri Amarjit Singh)
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image