Browse songs by

khote na ho.n jo hosh ... chalo pii le.n ki yaar aaye na aaye

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


खोते न हों जो होश उन्हें घर बुला के पी
या फिर बुतों को सामने, अपने बिठा के पी
बेहद ना पी, ना बोल बहुत, जोश में न आ
रुक रुक के पी, सुकून से पी, सर झुका के पी

दौलत है फ़क़त चार दिनों की पी ले
इज़्ज़त है फ़क़त चार दिनों की पी ले
है वक़्त शब-ओ-रोज़ तबाही की तरफ़
मोहलत है फ़क़त चार दिनों की पी ले

चलो पी लें के यार आये न आये
ये मौसम बार बार, आये न आये

गुलाबों की तरह तुम ताज़ा रहना
ज़माने में बहार आये न आये

ये सोचा है कि उसको भूल जायें
अब इस दिल को क़रार आये न आये

"ज़मीर" इस ज़िन्दगी से क्यूं ख़फ़ा हो
इसे फिर तुमपे प्यार आये न आये

Comments/Credits:

			 % Transliterator: Amit Malhotra
% Date: 13th Feb 2003
% Comments: The first two rubaayees are by translated from Omar Khaiyyam's
% Farsee rubaayees
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image