Browse songs by

ka_ii sadiyo.n se, ka_ii janamo.n se

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


कई सदियों से, कई जनमों से -२
तेरे प्यार को तरसे मेरा मन
आ जा
आ जा के अधूरा है अपना मिलन
कई सदियों से

(राहों में कहीं, नज़र आया
अपने ही खयालों का साया) -२
कुछ देर मेरा मन, लहराया
ओ ओ ओ, फिर डूब गई आशा की किरण
आ जा
आ जा के अधूरा है अपना मिलन
कई सदियों से

(सपनों से मुझे, न यूँ बहला
पायल के खोये गीत जगा) -२
सुनसान है जीवन की बगिया
ओ ओ ओ, सूना है बहारों का आँगन
आ जा के अधूरा है अपना मिलन
कई सदियों से

Comments/Credits:

			 % Transliterator: Rajiv Shridhar (rajiv@hendrix.coe.neu.edu)
% Date: Wed Jan 17, 1996
% Editor: Rajiv Shridhar (rajiv@hendrix.coe.neu.edu)
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image