Browse songs by

kaagaz kii thii wo naav

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


कागज़ की थी वो नाव
कागज़ की थी वो नाव हम जिसमें जा रहे थे
वो रेत के जहाँ पर हम घर बना रहे थे -२

झूठी तसल्लियों में
हाय
झूठी तसल्लियों में हम दिन गुज़ारते थे -२
गाना था वो किसी को हम गुनगुना रहे थे -२
कागज़ की थी वो नाव हम जिसमें जा रहे थे

उल्फ़त का राग उसने छेड़ा तो मैं ये समझी -२
बिगड़ी बना रहे हैं कल वो बना नहीं थे -२
कागज़ की थी वो नाव हम जिसमें जा रहे थे

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image