Browse songs by

jalaa kar aag dil me.n zindagii barabaad karate hai.n

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


जलाकर आग दिल में, ज़िन्दगी बरबाद करते हैं
न हँसते हैं, न रोते हैं, न कुछ फ़रियाद करते हैं

उम्मीदें, हसरत-ओ-अरमान, सब अपना लिए दिल में
लिए बरबादियाँ अब, रंज-ओ-ग़म आबाद करते हैं
न हँसते हैं ...

रहें मजबूरियाँ अपनी, रहें बरबादियाँ अपनी
हम अपने आशिया को, आप ही बरबाद करते हैं
न हँसते हैं ...

नहीं अपनी कोई मंज़िल, कहाँ जाएं, किधर जाएं
सहारा मौत का है, मौत को अपना करते हैं
न हँसते हैं ...

Comments/Credits:

			 % Transliterator: Balaji A S Murthy
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image