Browse songs by

zulf ke pha.nde me.n pha.Ns ga_ii jaa.N

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


ज़ुल्फ़ के फंदे में फँस गई जाँ
मर गया मैं तो ओ मेरी माँ -२

वाह मेरे दाता तेरे दर से अजब तक़दीर मिली
ज़ुल्फ़ की हसरत दिल को हुई तो ज़ंजीर मिली
ऊपर वाले ख़ूब निकाले इस दिल के अरमाँ
ज़ुल्फ़ के फंदे में ...

प्यार कुछ बूझे नहीं भला-बुरा सूझे नहीं
दिन हो के रैन
बड़े बूढ़े सच ही तो कह गए
होते नहीं प्यार के नैन
प्यार था अंधा तभी तो ये बंदा
जेल का है मेहमाँ
ज़ुल्फ़ के फंदे में ...

इश्क़ की दुनिया अजब है कहा था मजरूह ने कल
कुछ तो बनेगा बेटा चकले में घूमों चाहे ताजमहल
लाख तू भाँपे मंतर जापे
इश्क़ नहीं आसाँ
ज़ुल्फ़ के फंदे में ...

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image