Browse songs by

ye galiyaa.N ye chaubaaraa

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


ये गलियाँ ये चौबारा
यहाँ आना ना दोबारा
अब हम तो भए परदेसी
के तेरा यहाँ कोई नहीं -२
ले जा रँग-बिरंगी यादें
हँसने-रोने की बुनियादें
अब हम तो भए परदेसी
के तेरा यहाँ कोई नहीं -२

मेरे हाथों में भरी-भरी चूड़ियाँ
मुझे भा गईं हरी-हरी चूड़ियाँ
देख मिलती हैं तेरि-मेरी चूड़ियाँ
तेरे जैसी सहेली मेरी चूड़ियाँ
तूने पीसी वो मेहँदी रँग लैइ
मेरी गोरी हथेली रचाई
तेरी आँख क्यूँ लाडो भर आई
तेरे घर भी बजेगी शहनाई
सावन में बादल से कहना
परदेस में है मेरी बहना
अब हम तो भए परदेसी
के तेरा यहाँ कोई नहीं -२

आ माँ ए मिल ले गले
चले हम ससुराल चले
तेरे आँगन में अपना
बस बचपन छोड़ चले
कल भी सूरज निकलेगा
कल भी पंछी गाएंगे
सब तुझको दिखाई देंगे
पर हम न नज़र आएंगे
आँचल में संजो लेना हमको
सपनों में बुला लेना हमको
अब हम तो भए परदेसी
के तेरा यहाँ कोई नहीं -२

देख तू ना हमें भुलाना
माना दूर हमें है जाना
मेरी अल्हड़ सी अटखेलियाँ
सदा पलकों बीच बसाना
जब बजने लगें बाजे-गाजे
जग लगने लगे खाली-खाली
उस दम तू इतना समझना
मेरी डोली उठी है फूलों वाली
थोड़े दिन के ये नाते थे
कभी हँसते थे गाते थे
अब हम तो भए परदेसी
के तेरा यहाँ कोई नहीं -२

ये गलियाँ ये चौबारा
यहाँ आना ना दोबारा
अब हम तो भए परदेसी
के तेरा यहाँ कोई नहीं -२

Comments/Credits:

			 % Transliterator: David Windsor 
% Editor: Rajiv Shridhar 
% Date: 10/26/1996
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image