Browse songs by

wo aaii subah ke ... Kudaa nigahabaan ho tumhaaraa

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


वोह आई सुबहा के परदे से मौत की आवाज़
किसी ने तोड़ दिया जैसे ज़िंदगी का साज़

ख़ुदा निगेहबान हो तुम्हारा - २
धड़कते दिल का पयाम ले लो - २
तुम्हारी दुनिया से जा रहें हैं
उठो हमारा सलाम ले लो - २

(है वक़्त-ए-रुख़्सत, गले लगा लो
ख़ताएं भी आज बक्ष डालो) - २
बिछड़ने वाले का दिल न तोड़ो
ज़रा मोहब्बत से काम ले लो - २

तुम्हारी दुनिया से जा रहें हैं
उठो हमारा सलाम ले लो

(उठे जनाज़ा जो कल हमारा
क़सम है तुमको, न देना काँधा) - २
न हो मोहब्बत हमारी रुसवा
ये आँसुओं का पयाम ले लो - २

ख़ुदा निगेहबान हो तुम्हारा
धड़कते दिल क पयाम ले लो

Comments/Credits:

			 % Contributor: Nipun Shah
% Transliterator: Nipun Shah
% Date: Dec 14, 2002
% Series: GEETanjali
% Comments: The film version of the song doesn't have the "hai
% waqt-e-rukhsat" stanza. The LP version has both the stanzas, 
% but doesn't have the prelude.
% generated using giitaayan
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image