Browse songs by

uma.ngo.n ko sakhii pii kii nagariyaa kaise le jaauu.N

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


उमंगों को सखी पी की नगरिया कैसे ले जाऊँ
चोरुस: उमंगों को सखी पी की नगरिया कैसे ले जाऊँ
क़मर लचके मोरी
हाय क़मर लचके मोरी भारी गगरिया कैसे ले जाऊँ
चोरुस: क़मर लचके मोरी भारी गगरिया कैसे ले जाऊँ

डगर में रूप के लोभी नगर में मन के मैलें हैं
चोरुस: नगर में मन के मैलें हैं
यहाँ पापी नजरीयों के हज़ारों जाल फैलें हैं
चोरुस: हज़ारों जाल फैलें हैं
भरे बाज़ार में बाली उमरीया कैसे ले जाऊँ
क़मर लचके मोरी
चोरुस: हाय क़मर लचके मोरी भारी गगरिया कैसे ले जाऊँ
चोरुस: उमंगों को सखी पी की नगरिया कैसे ले जाऊँ

मोहे दुनिया से डर लागे यहाँ लाखों हैं मतवाले
चोरुस: यहाँ लाखों हैं मतवाले
न जाने कोइ अलबेला मोहे किस रंग में रंग डाले
चोरुस: मोहे किस रंग में रंग डाले
रंगीलों में भला कोरी चुनरिया कैसे ले जाऊँ
क़मर लचके मोरी
चोरुस: हाय क़मर लचके मोरी भारी गगरिया कैसे ले जाऊँ
चोरुस: उमंगों को सखी पी की नगरिया कैसे ले जाऊँ

लगा के हाथों में मेहंदी रचा के नैनों में रतिया
चोरुस: रचा के नैनों में रतिया
दुलहनीया बनके निकली हुं मिलेंगे आज मन बसिया
चोरुस: मिलेंगे आज मन बसिया
सजन के द्वार से प्यासी नजरिया कैसे ले जाऊँ
क़मर लचके मोरी
चोरुस: हाय क़मर लचके मोरी भारी गगरीया कैसे ले जाऊँ
चोरुस: उमंगों को सखी पी की नगरिया कैसे ले जाऊँ

Comments/Credits:

			 % Contributor: Neha Desai
% Transliterator: Neha Desai
% Date: Dec 10, 2002
% Series: Latanjali
% generated using giitaayan
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image