Browse songs by

tumhe.n jo bhii dekh legaa, kisii kaa naa ho sakegaa

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


तुम्हें जो भी देख लेगा, किसी का ना हो सकेगा
परी हो भला हो क्या हो तुम
तुम्हें जो भी देख लेगा ...

दुनिया चले उधर ही जिधर ये निगाह घूमे
शबनम को देख लो गर बनकर शराब झूमे
नशा ही नशा हो क्या हो तुम
तुम्हें जो भी देख लेगा ...

कजरारे नैन भंवरे पलकें जो खोलते हैं
दिलों की भी बात क्या है ईमान भी डोलते हैं
भूतों के खुदा हो क्या हो तुम
तुम्हें जो भी देख लेगा ...

कहाँ ये धमकता चेहरा, कहाँ ऐसा नूर होगा
जिसने बनाया तुमको उसे भी गुरूर होगा
खुदा की अदा हो क्या हो तुम
तुम्हें जो भी देख लेगा ...

Comments/Credits:

			 % Transliterator: Ravi Kant Rai 
% Editor: Anurag Shankar (anurag@astro.indiana.edu)
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image