Browse songs by

tum ho saath raat bhii hasii.n hai

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


( तुम हो साथ रात भी हसीं है
अब तो मौत का भी ग़म नहीं है ) -२

( चाँद जानता नहीं ये दास्ताँ
किस तरफ़ चला है मेरा कारवाँ ) -२
फिर कभी न साथ होंगे हम यहाँ
चाँ को तो ये ख़बर नहीं है

तुम हो साथ रात भी हसीं है
अब तो मौत का भी ग़म नहीं है

( कितना ख़ुशनसीब मेरा प्यार है
मेरे सामने मेरी बहार है ) -२
तेरी हर अदा से मुझको प्यार है
आज मुझको कोई ग़म नहीं है

तुम हो साथ रात भी हसीं है
अब तो मौत का भी ग़म नहीं है

( आज फूल मेरे प्यार के खिले
अब न हैं शिक़ायते न हैं गिले ) -२
जो मौत मुझको तेरे हाथ से मिले
वो मौत ज़िन्दगी से कम नहीं है

तुम हो साथ रात भी हसीं है
अब तो मौत का भी ग़म नहीं है

Comments/Credits:

			 % Song courtesy: http://www.indianscreen.com (Late Shri Amarjit Singh)
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image