Browse songs by

tan me.n agni man me.n chubhan ... o rabbaa Kair

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


आ : तन में अग्नि मन में चुभन
काँप उठा मेरा भीगा बदन
ओ रब्बा ख़ैर ख़ैर ख़ैर ओ रब्बा ख़ैर
र : उजला मुख जैसे दर्पन
काली लट जैसे नागन
ओ रब्बा ख़ैर ख़ैर ख़ैर ओ रब्बा ख़ैर

आ : कोई लहर जब तन को छू ले -२
बीच भँवर मेरी काया झूले
बान जिगर पर मारे पवन
थाम के दिल रह जाऊँ सजन
ओ रब्बा ख़ैर ...

र : फूल से निखरी तेरी जवानी -२
शोला बन गया ठण्डा पानी -२
चाँद से उतरी चंद्र किरण
कौन बुझाए मन की तपन
ओ रब्बा ख़ैर ...

आ : सोच ना तू बाँहों में ले-ले
इश्क़ वही जो आग से खेले
आज हुआ दो दिल का मिलन
आज मिला धरती से गगन
ओ रब्बा ख़ैर ...

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image