Browse songs by

suune panaghaT pe biitii huii raat ko - - Hemant

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


सूने पनघट पे बीती हुई रात को
वो मस्ती में डूबी हुई बात को
हाय दिल से जो तुमने भुलाया
बोलो बोलो क्या सुख तुमने पाया

मेरा घर आई थी तुम बसाने
गई फिर मिटाकर क्यों न जाने
यूँ हँसाकर जो हमको रुलाया
बोलो बोलो क्या सुख तुमने पाया ...

हम से बिरहा था अनजान प्यारी
दिया तुमने है ये दान प्यारी
हम को बसकर उजड़ना सिखाया
बोलो बोलो क्या सुख तुमने पाया

Comments/Credits:

			 % Transliterator: K Vijay Kumar
% Comments: Hemantada... #45
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image