Browse songs by

suniyo araj hamaarii, prabhujii - - Rafi

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


सुनियो अरज हमारी प्रभुजी
सुनियो अरज हमारी
दुनिया की इस भरी सभा मेइन
रखियो लाज मुरारी
सुनियो अरज हमारी ...

तोड़ दिया अंधे हाथोन ने राम नाम क प्याला
जल के राख हुई रे कान्हा भक्तों की मधुशाला
सुनियो अरज हमारी ...

पाप के मन्दिर निस दिन बनते झूट की गंगा बहती
धमर् की आँखें अन्धी हो गयीं पूजा हो गयी सस्ती
सुनियो अरज हमारी ...

हर मन में तुम बसे हुए हो जाने ये संसारी
आस मिलन की जनम जनम तक फिर भी रहे कुँवारी
सुनियो अरज हमारी ...

Comments/Credits:

			 % Transliterator: K Vijay Kumar
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image