Browse songs by

shaam dekho Dhal rahii hai

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


ल: शाम देखो ढल रही है
पंछी देखो जा रहे है
तू भी चल मेरे संग ओ जीवन साथी ...

रफ़ी: शाम देखो ढल रही है
पंछी देखो जा रहे है
तू भी चल मेरे संग ओ जीवन साथी ...
दोनो: शाम देखो ढल रही है

ल: है शाम के आँचल मैं, मस्ती है भीगी भीगी
और दे रही है धड़कन, आवाज़ धीमी धीमी
आवाज़ धीमी धीमी
तू भी चल मेरे संग ओ जीवन साथी ...
शाम देखो ढल ...

रफ़ी: ये नील कमल सी आँखें, है काजल बिन कजरारी
है (रस सम्भलके ??) ये सुन्दर प्यारी प्यारी
ये सुन्दर प्यारी प्यारी
तू भी चल मेरे संग ओ जीवन साथी ...
शाम देखो ढल ...

Comments/Credits:

			 % Transliterator: Ravi Kant Rai (rrai@plains.nodak.edu)
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image