Browse songs by

sa.Nwariyaa prem kii bansii sunaa

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


सै : सँवरिया प्रेम की बन्सी सुना
का : पतली-पतली ज़रा सी बनसी
बड़े-बड़े गुन गाये
सात सुरों के फेर बदल से
सारे राग बजाये
सँवरिया प्रेम की बनसी सुना
दो : सँवरिया प्रेम की बन्सी सुना

सै : निरमोही को रूप दिखाये
मोही को तरसाये
मुँह पर डाल के काली कमलिया
दिन को रात बनाये
दो : सँवरिया प्रेम की बन्सी सुना -२

आप तो प्रीत की रीत न जाने
और को प्रीत सिखाये
प्यार में मारे बान नजर का
आँख का चक्र घुमाये

का : मन के ध्यान से रजधा रानी
लम्बी दौड़ लगाये
सै : मन के ध्यान से रजधारानी
लम्बी दौड़ लगाये
का : मथुरा से
मथुरा से गोकुल तक जाये
दरशन कर लौट आये
सै : मथुरा से गोकुल तक जाये
दरशन कर लौट आये
दो : लौट आये फिर जाये -४
बनसी सुनाये -३

सै : बन्सी सुनाये
का : बनसी सुनाये

Comments/Credits:

			 % Song courtesy: http://www.indianscreen.com (Late Shri Amarjit Singh)
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image