Browse songs by

sajan salonaa maa.Ng lo jii ko_ii

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


आ : हो ओ ओ
को : हो ओ ओ ओ
आ : सजन सलोना माँग लो जी कोई -२
निकला है दूज का चाँद
( सखी री
आज न करियो लाज ) -२

सुनो सबो री (?)
ल : ऊई माँ
आ : काहे की चोरी
ल : ऊई माँ

ल : मोहे नीकी नाहीं लागे ऐसी बात
सखी छेड़ो ना
ओ मैं न चाहूँ किसी छलिये का साथ
सखी छेड़ो ना
आ : अहा
तू ना चाहे किसी मीतवा का साथ री कैसी
के तोरी छम-छम करती पायल क्या है बोली
मतवारा रसिया

को : सुनो सबो री (?)
ल : ऊई माँ
को : काहे की चोरी
ल : ऊई माँ
को : सजन सलोना माँग लो जी कोई
निकला है दूज का चाँद
( सखी री
आज न करियो लाज ) -२

ल : जा को भाऊँ वही माँगे मोरा हाथ
मैं तो माँगूँ ना
बड़ी आई है ये दूज की रात
मैं तो माँगूँ ना
आ : आई
तू ना मांगे सखी आज की रात री सखी
के तोरी चम-चम करती बिन्दिया माँगे कोई
मतवारा रसिया

को : सुनो सबो री (?)
ल : ऊई माँ
को : काहे की चोरी
ल : ऊई माँ
को : सजन सलोना माँग लो जी कोई
निकला है दूज का चाँद
( सखी री
आज न करियो लाज ) -२

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image