Browse songs by

saavan kii raat me.n aisaa bhii hotaa hai

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


सावन के रात में ऐसा भी होता है
राही कोई भूला हुआ तूफ़ानों में खोया हुआ
राह में आ जाता है

तेरी नजर से इसे देख
दिल से मेरे तुम ये महसूस कर लो
तूफ़ान ये मेरे दिल से उठा है
चाहो तो तुम अपने दामन में भर लो
तूफ़ानों में खोया ...

हारा हुआ था अंधेरे को राही
मंज़िल से पहले ??? आ रही थी
तुम दूर लेकर चली आई
मेरे चरागों से लौ जा रही थी
तेरे लिये ??? हैं हम दिल जानता है
तूफ़ानों में ...

Comments/Credits:

			 % Transliterator: Ravi Kant Rai (rrai@plains.nodak.edu)

% \printtitle
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image