Browse songs by

saanuu.n nahar vaale pul te bulaa ke

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


सानूं नहर वाले पुल ते बुला के
ते ख़ौरे माही कित्थे रह गया
साडी अक्खां विच्चों नीन्दरां उड़ा के
ते ख़ौरे माही कित्थे रह गया

उड़दा दुपट्टा मेरा मलमल दा
दिल उत्ते ज़ोर चन्नां नैइं चलदा
आवें ते मनावांगी मैं हथ जोड़ के
माही वे तूं ग़ुस्सा किता कह्ड़ी गल दा
साडे पेरां विच बेड़ियां पा के
ते ख़ौरे माही कित्थे रह गया

थक गैइ पानियां नूं पुन-पुन के
गल्लां ऐस दिल दियां सुन-सुन के
डाह्डा सानूं किता ऐ तूं तन्ग सजनां
बदले लवांगी तैथों चुन-चुन के
सानूं प्यार वाली पौड़ी ते चढ़ा के
ते ख़ौरे माही कित्थे रह गया

रुत तेरे प्यार वाली रन्ग-रन्ग दी
दिल तैनूं चुम दा ते अख सन्ग दी
मुल कह्ड़ा पया वे तूं साडे प्यार दा
हर वैले तेरियां मैं ख़ैरां मन्गदी
सानूं प्यार दे पुलेखे विच पा के
ते ख़ौरे माही कित्थे रह गया

Comments/Credits:

			 % Date: December 23, 2002
% Series: NOOR-E-TARANNUM #36
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image