Browse songs by

raat a.Ndherii Dar laage

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


रात अँधेरी डर लागे अकेली मोहे छोड़ न जाना जी
देखो जी देखो मोरे सैंय्या यह दिल मेरा तोड़ न जाना जी

लेके न जाना मेरे दिल का क़रार, तू है मेरी बहार
मेरा कहता है प्यार
मैं ने किया है दिल तेरे हवाले, मोहे अपना बना ले
सुन मेरी पुकार
ओ मोरे सैंय्या पड़ूँ मैं तोरे पैंय्या, मोहे छोड़ न जाना जी

मानो जी मानो पिया देखो इधर, इक मीठी नज़र
मेरे जान-ए-जिगर
कारी कारी रात जिया मोरा जगाये, मोहे निन्दिया ना आये
मैं न जाऊँ किधर
ओ मोरे राजा, क़सम मेरी आजा, मोहे छोड़ न जाना जी

Comments/Credits:

			 % Transliterator: K Vijay Kumar
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image