Browse songs by

piite piite kabhii-kabhii yuu.n jaam badal jaate hai.n

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


रफ़ी: पीते पीते कभी-कभी यूं जाम बदल जाते हैं
जाम बदल जाते हैं - २
अरे काम बदल जाते हैं, लोगों के नाम बदल जाते हैं

रफ़ी: ये परवाना-ए-शमा, मेहमान है इक रात का - २
दिल की बातें छेड़ दूं, डर है बस इस बात का
यहाँ से वहाँ तक जाने में, वहाँ से यहाँ तक आने में
लोग ये कहते हैं जी - २
बंद लिफ़ाफ़े में भी, दिल के पैग़ाम बदल जाते हैं
पीते पीते ...

आशा: दो रुख हर तस्वीर के, हैरां हूँ मैं देख के
रफ़ी: हैरान हूँ मैं देख के
आशा: है इक चेहरा और भी, चेहरे पे हर एक के
रफ़ी: चेहरे पे हर एक के
आशा: नजर को नजर जो आता है, फ़रीबी-नज़र कहलाता है
नींद के इक झोंके से, आँख के इस धोखे से
रफ़ी: राम और शाम बदल जाते हैं

दोनो: पीते पीते ...

Comments/Credits:

			 % Transliterator: Ravi Kant Rai (rrai@plains.nodak.edu)
% Editor: Anurag Shankar (anurag@chandra.astro.indiana.edu)
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image