Browse songs by

pa.nchhii priit kii riit nibhaa - - Talat

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


पंछी प्रीत की रीत निभा
धीरे धीरे घाव भरेंगे
दर्द छुपाए जा
पंछी प्रीत कि रीत निभा

प्रेम है दुख की आग में जलना
तड़प तड़प कर मरना जीना
पागल रो ले चाहे जो रोना
जग में हँसी दिखला
पंछी प्रीत की रीत निभा

प्रेमी ने जब दुनिया खोई
प्रीत भी जागी क़िस्मत सोई
आस मिलन की छुप छुप रोई
प्रीत के देव्ता ऐसे पत्थर
कौन करे पूजा
पंछी प्रीत की रीत निभा

Comments/Credits:

			 % Date:   October 19, 2001
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image