Browse songs by

pahale to kabhii kabhii Gam thaa

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


हूं पहले तो कभी कभी ग़म था
अब तो हर पल ही तेरी याद सताती है
पहले तो कभी कभी ग़म था
आ अब तो हर पल ही तेरी याद रुलाती है आ

पहले तो कभी कभी ग़म था
मगर ये दर्द-ए-जुदाई है हर घड़ी अब
पहले तो कभी कभी ग़म था
आ मगर ये दाग-ए-जुदाई है हर घड़ी अब आ

मैं तुझसे कैसे कहूँ ये बता
के तेरी याद के सहारे जी रहा हूँ
मैं तुझसे कैसे कहूँ ये बता
आ के ग़म के आँसुओं को खुद ही पी रहा हूँ आ
मैं तुझसे कैसे कहूँ ये बता
न मार डाले तेरी बेवफ़ाई मुझको
मैं तुझसे कैसे कहूँ ये बता
आ न मार डाले कहीं ये जुदाई मुझको आ

हो बता दे मुझको बेवफ़ा ये
मैं तेरी राह में कब तक खड़ा रहूंगा
बता दे मुझको बेवफ़ा ये
आ मैं तेरे दर पे यूं कब तक पड़ा रहूंगा आ
बता दे मुझको बेवफ़ा ये
तू मुझको कब तलक ऐसे ही रुलाएगा
बता दे मुझको बेवफ़ा ये
आ तू मुझको कब तलक अपना न बनाएगा आ

हूं ऐ पगली तू क्यूं रो रही है
के ग़म तो मुझको उठाना है जुदाई का
ऐ पगली तू क्यूं रो रही है
आ तेरे लिए तो समां है ये शहनाई का
ऐ पगली तू क्यूं रो रही है
के गाँव छोड़ना है मेरे मुकद्दर में
हूं ऐ पगली तू क्यूं रो रही है
आ के उम्र गुज़रेगी अब मेरी ये सफ़र में आ

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image