Browse songs by

paayo jii mai.n ne raam ratan dhan paayo - - Lata

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


पायो जी मैं ने राम रतन धन पायो ...

वस्तु अमोलिक दी मेरे सतगुरु, किरपा करी अपनायो .

जनम जनम की पूँजी पा{ई} जगमें सभी खोवायो .

खरचै न खूटै, चोर न लूटै, दिन दिन बढ़त सवायो .

सत की नाव, खेवटिया सतगुरु, भवसागर तर आयो .

मीरा के प्रभु गिरिधर नागर हरख हरख जस गायो .

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image