Browse songs by

naaz thaa Kud par magar aisaa na thaa - - Chhaya Ganguli

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


नाज़ था ख़ुद पर मगर ऐसा न था
आइने में जब तलक देखा न था

शहर की महरूमियाँ मत पूछिये
भीड़ थी पर कोई भी अपना न था

मंज़िलें आवाज़ देती रह गईं
हम पहुँच जाते मगर रस्ता न था

इतनी दिलकश थी कहाँ ये ज़िंदगी
हमने जब तक आपको चाहा न था

Comments/Credits:

			 % Credits: U V Ravindra, Vinay P Jain
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image