Browse songs by

na jhaTako zulf se paanii ye motii TuuT jaaye.nge

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


ना झटको सुल्फ़ से पानी यह मोती टूट जायेंगे
तुम्हारा कुछ न बिगड़ेगा मगर दिल टूट जायेंगे
ना झटको सुल्फ़ से पानी ...

ये भीगि रात ये भीगा बदन ये हुस्न का आलम
ये सब अन्दाज़ मिल कर दो जहाँ को लूट जायेंगे
ना झटको सुल्फ़ से पानी ...

यह नाज़ुक लब हैं या आपस में दो लिपटी हुई कलियाँ
ज़रा इनको अलग कर दो, तरन्नुम फूट जायेंगे
ना झटको सुल्फ़ से पानी ...

हमारी जान ले लेगा यह नीची आँख क जदू
चलो अच्छ हुआ मर कर जहाँ से छूट जायेंगे
ना झटको सुल्फ़ से पानी ...

Comments/Credits:

			 % first stanza provided by sanjeevr in sanjeevtrans, converted
% to iTrans by V S Rawat
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image