Browse songs by

na jaa kahii.n ab na jaa dil ke sivaa

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


न जा कहीं अब न जा दिल के सिवा
है यही दिल कूचा तेरा
ऐ मेरे हम्दम मेरे दोस्त
ना जा कहीं अब न जा ...

आज सहर-ए-दिल में चलके
सूरत-ए-चिराग़ जलके
झुकी झुकी निगाह की
काजल से दिल पे
लिखे आ नाम-ए-वफ़ा~
ना जा कहीं अब न जा ...

आके खून-ए-दिल मिलाके
भर दूँ इन लबों के खाके
बुझा भुझा बदन तेरा
कमल कमल खिला के
खिला दूँ रंग-ए-हिना~
ना जा कहीं अब न जा ...

Comments/Credits:

			 % Transliterator: K Vijay Kumar
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image