Browse songs by

morii bhagati me.n shyaam samaayo - - Talat

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


(मोरी भगति में श्याम समायो)-२
मैं राखूँ पल कण कोर(?)
मोरी भगति में श्याम समायो
जाको देखूँ वो बन जाए
नटखट नंद किशोर
मोरी भगति में श्याम समायो

पात-पात में बंसी बाजे
सुर लहरी पर जुगनु नाचे
(श्याम के रंग में रैन रंगी है)-२
सपने भए चकोर
मोरी भगति में श्याम समायो

छल न सकोगे मोहे मुरारी
मैं सब जानूँ टेहू तिहारी
(जी भर खेलो आँख मिचोली)-२
गोपियन के चितचोर
मोरी भगति में श्याम समायो

जाए कहूँगा मैं राधा से
मोरी बने न अब कान्हा से
(अपने मन की वो मनवाए)-२
बाँध प्रीत की डोर
मोरी भगति में श्याम समायो
मैं राखूँ पल कण कोर
(मोरी भगति में श्याम समायो)-२

Comments/Credits:

			 % Transliterator: Animesh Kumar
% Date: 16 July 2003
% Series: Sukhsaagar
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image