Browse songs by

merii pat raakho giradhaarii

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


मेरी पत राखो गिरधारी
मैं दुखिया शरण तिहारी

छोड़ तुम्हारा द्वार प्रभुजी किसके द्वारे जाऊँ
तुम बिन मेरा कौन सहारा किससे आस लगाऊँ
ये बोलो कृष्ण मुरारी रे
मेरी पत राखो ...

देखो बीच भँवर मेरी डूब रही है नैया
चारों ओर है अँधेरा कोई नहीं खिवैया
तूफ़ान उठा है भारी मुझे शक्ति को बनवारी
मेरी पत राखो ...

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image