Browse songs by

mere dukh kii koiii davaa na karo - - Chitra Singh

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


मेरे दुख की कोईइ दवा न करो
मुझको मुझसे अभी जुदा न करो

नाख़ुदा को ख़ुदा कहा है तो फिर
डूब जाओ, ख़ुदा ख़ुदा न करो

यह सिखाया है दोस्ती ने हमें
दोस्त बनकर कभी वफ़ा न करो

इश्क़ है इश्क़, यह मज़ाक नहीं
चंद लम्हों में फ़ैसला न करो

आशिक़ी हो या बंदगी, 'फ़ाकिर'
बे-दिली से तो इब्तिदा न करो

Comments/Credits:

			 % Transliterator: Rajiv Shridhar (rajiv@hendrix.coe.neu.edu)
% Date: Sun Nov  5 1995
% Credits: snehal@wipro.wipsys.soft.net (Snehal B. Oza)
% Editor: Rajiv Shridhar (rajiv@hendrix.coe.neu.edu)
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image