Browse songs by

ma.nzil vahii hai pyaar kii raahii badal gaye

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


मंज़िल वही है प्यार की राही बदल गये
सपनों की महफ़िल में हम तुम नये

दुनिया की नज़रों से दूर जाते हैं हम तुम जहाँ
उस देश की चाँदनी गायेगी ये दास्ताँ
मौसम था वो बहार का दिल खिल मचल गये
सपनों की महफ़िल में हम तुम नये

छुप न सके मेरे राज़, नग़मों में ढलने लगे
रोका था दिल ने मगर, पहलू बदलने लगे
वो दिन ही कुछ अजीब थे जो आज कल गये
सपनों की महफ़िल में हम तुम नये

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image