Browse songs by

man kare yaad wo din

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


मन करे याद वो दिन
तेरे संग बीते थे जो पल रंगीन
तेरे संग देखे थे जो सपने हसीन ||स्थायी||

कभी छाँव में हम चले, जले धूप में भि हम तुम साथ में
कभी साथ-साथ भीगे बरसात में
कभी तो पता ना चला
दिन जाने कैसे ढला
कभी-कभी रात काटी, तारे गिन-गिन ||१||

बहारों की डोली लिये, कितना भी चाहे ये मौसम सजे
तेरे बिन बसन्त भी ये पतझड़ लगे
सिंदूरी ये माँग भरे
पाँवों में महावर मले
दुल्हन जैसी साँझ भी ये, डसे तेरे बिन ||२||

Comments/Credits:

			 % Date: 4 Jul 2004
% generated using giitaayan
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image