Browse songs by

mai.n raahii bhaTakane vaalaa huu.N

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


मैं राही भटकने वाला हूँ
कोई क्या जाने मतवाला हूँ

ये मस्त घटा मेरी चादर है
ये धरती मेरा बिस्तर है
मैं रात में दिन का उजाला हूँ
कोई क्या जाने ...

ये बिजली रात दिखाती है
मंज़िल पे मुझे पहुँचाती है
मैं तूफ़ानों का पाला हूँ
कोई क्या जाने ...

मैं मचलूँ तो इक आग भी हूँ
मैं झूमूँ तो इक राग भी हूँ
दुनिया से दूर निराला हूँ
कोई क्या जाने ...

Comments/Credits:

			 % Credits: Ashok Dhareshwar
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image