Browse songs by

lutf jo usake i.ntezaar me.n hai.n

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


लुत्फ़ जो उसके इंतेज़ार में हैं
वो कहाँ मौसम-ए-बहार में है

हुस्न जितना है गाहे गाहे में
कब मुलाक़ात-ए-बार-बार में है

जान-ओ-दिल से मैं हारता ही रहूँ
गर तेरी जीत मेरी हार में हैं

ज़िंदगी भर की चाहतों का सिला
दिल में पैबस्त नोक-ए-ख़ार में हैं

क्या हुआ गर ख़ुशी नहीं बस में
मुस्कुराने तो इख़्तियार में है

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image