Browse songs by

kyaa khabar thii ... vo din kahaa.N gaye bataa

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image

क्या खबर थी कि मुहब्बत में ये दिन आते हैं
जिसे हम अपना बनाते हैं, वो तड़पाते हैं

वो दिन कहाँ गये बता-२
जब इस नज़र में प्यार था, प्यार था
वो दिन कहाँ गये बता

मैं ने तो कुछ कहा नहीं
जो यूँ निगाहें फेर ली
मैं ने तो कुछ कहा नहीं
वो रात याद है यही, किस्सा हुआ था प्यार का
वो दिन कहाँ गये बता

(आँखों में नींद थी मगर
सोये नहीं थे रात भर)-२
दिल को लगा हुआ था डर
शाम सवेरा हो गया
वो दिन कहाँ गये बता

Comments/Credits:

			 % Transliterator:Srinivas Ganti
% Date:18 August 2001
% Comments:LATAnjali
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image