Browse songs by

kyaa itanaa bhii adhikaar nahii.n - - Talat

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


क्या इतना भी अधिकार नहीं

ढूँढ सकूँ नज़रों में तेरी अपना खोया प्यार
देख सकूँ
देख सकूँ जी भर के तुझको
दूर खड़ा एक बार -२
क्या इतना भी अधिकार नहीं

कभी कहीं जाने-अनजाने करने (??) में लाचार
झूम सकूँ
झूम सकूँ मैं सुन कर तेरी
पायल की झनकार -२
क्या इतना भी अधिकार नहीं

करूँ तेरे सपनों से अपनी रातों का सिंगार
छेड़ सकूँ
छेड़ सकूँ मन की वीना पर
तेरे गीत हज़ार -२
क्या इतना भी अधिकार नहीं

नैन बिछाने राह में हर लूँ (??) प्रेम-नगर के द्वार
पूछ सकूँ
पूछ सकूँ मैं तुझसे अपने
जीने का आधार -२
क्या इतना भी अधिकार नहीं

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image