Browse songs by

Kushii kii vo raat aa ga_ii ko_ii giit jagane do

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


ख़ुशी की वो रात आ गई कोई गीत जगने दो
गाओ रे झूम-झूम -२
कहीं कोई काँटा लगे जो पग में तो लगने दो
नाचो रे झूम-झूम -२

आज हँसूँ मैं इतना कि मेरी आँख लगे रोने
आज मैं इतना गाऊँ कि मन में दर्द लगे होने
ओ मज़े में सवेरे तलक़ यही गीत बजने दो
नाचो रे झूम ...

धूल हूँ मैं वो पवन बसंती क्यों मेरा संग धरे
मेरी नहीं तो और किसी की पैया में रंग भरे
ओ दो नैनों में आँसू लिए दुल्हनिया को सजने दो
नाचो रे झूम ...

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image