Browse songs by

Kudaa huzuur ko merii bhii zi.ndagii de\-de

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


दो: आऽ
आ: ख़ुदा हुज़ूर को मेरी भी ज़िंदगी दे-दे -२
बग़ैर आपके बेहतर है मेरा मर जाना
उ: न होगी शम्मा तो महफ़िल का रंग क्या होगा -२
जियेगा कैसे अंधेरे में कोई परवाना
दो: ख़ुदा हुज़ूर को मेरी भी ज़िंदगी दे-दे
ख़ुदा हुज़ूर को

आ: ( रहे हुज़ूर की हम पर अगर निगाह-ए-करम
उ: तो हम ख़ुदा को न ढूँढें कभी ख़ुदा की कसम ) -२
दो: हमारे वास्ते जन्नत हैं आपकी बाँहें -२
हिला सकेगी न दुनिया कभी वफ़ा के कदम
ख़ुदा हुज़ूर को मेरी भी ज़िंदगी दे-दे -२
बग़ैर आपके बेहतर है मेरा मर जाना
ख़ुदा हुज़ूर को

आ: आ
उ: वो बिजलियाँ हैं नज़र में जो बादलों में नहीं
आ: हाँ शराब और भी है
उ: आऽ
आ: शराब और भी है सिर्फ़ बोतलों में नहीं
उ: हो वो बिजलियाँ हैं नज़र में जो बादलों में नहीं
आ: शराब और भी है सिर्फ़ बोतलों में नहीं
दो: ज़रा सी बात है दुनिया अगर इसे समझे
ज़रा सी बात -२
ज़रा सी बात है दुनिया अगर इसे समझे
वो शम्मा दिल में जो जलती है महफ़िलों में नहीं
ख़ुदा हुज़ूर को मेरी भी ज़िंदगी दे-दे -२
बग़ैर आपके बेहतर है मेरा मर जाना
ख़ुदा हुज़ूर को
न होगी शम्मा तो महफ़िल का रंग क्या होगा -२
जियेगा कैसे अंधेरे में कोई परवाना
ख़ुदा हुज़ूर को

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image