Browse songs by

kajare badaravaa re, marzii terii hai kyaa zaalimaa

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


कजरे बदरवा रे, मर्ज़ी तेरी है क्या ज़ालिमा
ऐसे न बरस ज़ुल्मी, कह न दूँ किसीको मैं बालमा
कजरे बदरवा ...

कहीं गिर जाए न बिंदिया, कहीं उड़ जाए न निंदिया -२
काली काली आने वाली
काली काली आने वाली बरखा की रात है
कजरे बदरवा ...

र्हिमझिम वाली चुनरिया ओढ़े हुए आयी बदरिया - २
झोओमें ऐसे, गोरी जैसे
झोओमें ऐसे, गोरी जैसे सजना के साथ है
कजरे बदरवा ...

इस भीगी-भीगी हवा ने कानों में कहा क्या न जाने -२
मैं शर्माई, मैं घबराई
मैं शर्माई, मैं घबराई ऐसी कोई बात है
कजरे बदरवा ...

Comments/Credits:

			 % Date: Thu Jan 18, 1996
% Credits: Vish Krishnan (vishk@cup.hp.com)
%          roopa (RXD15Wpsuvm.psu.edu)
%	   Preetham Gopalaswamy (preetham@connectinc.com)
%          Shalini Razdan
% Editor: Rajiv Shridhar (rajiv@hendrix.coe.neu.edu)
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image