Browse songs by

kahii.n dekh akelii naar khet ke paar ko_ii na aa_iyo

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


कहीं देख अकेली नार खेत के पार कोई न आइयो -२
मेरे नैन मुसाफ़िर मार बच कर रहियो जी बच कर रहियो
कहीं देख अकेली नार खेत के पार कोई न आइयो

देख रूप की धूप रास्ता भूल न जाना राही -२
खिले फूल को सोच समझ कर हाथ लगाना राही
मैं हूँ फूलों की रखवार -२
खेत के पार कोई न आइयो
कहीं देख अकेली नार खेत के पार कोई न आइयो

खुली हवा में सरर सरर जब मेरा दुपट्टवा झूमे
हाँ
खुली हवा में सरर सरर जब मेरा दुपट्टवा झूमे
छोड़ के धरती हौले हौले नील गगन को चूमे
उड़ें जब ज़ुल्फ़ें घूँघरदार -२
खेत के पार कोई न आइयो
कहीं देख अकेली नार खेत के पार कोई न आइयो

हिरनी बन कर खेत खेत में अपनी धुन में डोलूँ -२
मेरा दूसरा नाम जवानी बोल अनोखे बोलूँ
मैं कहती बारम्बार
सुनो मैं कहती बारम्बार
खेत के पार कोई न आइयो
कहीं देख अकेली नार खेत के पार कोई न आइयो

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image