Browse songs by

is jag se kuchh aas nahii.n - - Talat

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


इस जग से कुछ आस नहीं
अभिलाष नहीं विश्वास नहीं
तू सुन ले मतवाले ओ जगवासी

दुनिया है माया का सपना
कोई नहीं है तेरा अपना
स्वार्थ की है माला जपना
बन कर के परवासी

क्यूँ ठोकरें खाता क़दम क़दम पर
क़दम क़दम पर ठोकरें खाता
सीधी राह पे फिर भी न आता
सुख के बदले दुख ही पाता
मन में आती उदासी

Comments/Credits:

			 % Date: 04 feb 2003
% Credits: Hamraaz and Gurcharan Sandhu.
% Rakesh Pratap Singh's book on Talat.
% Comments: Geetanjali Series. HMV documents and HFGK
% have misattributed the song to the film Rajlaxmi.
% Hamraaz discovered after hfgk's publication that
% the song is a non-film one.
% HMV 78 disc # N-16688.
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image