Browse songs by

ham bhuul gaye hai.n rakh ke kahii.n

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


हम भूल गये हैं रख के कहीं
वो चेएज जिसे दिल कह्ते थे
वो चेएज जिसे दिल कह्ते हैं ||स्थायेए||

उम्मेएद भेए अज्नबेए लग्तेए है
और दर्द पराया लग्ता है
आईने में जिस्को देखा था
बिछ्ड़ा हुआ साया लग्ता है ||१||

हम भोओल गये हैं रख के कहेएं ....

ना जाने कहां छोड़ आये हैं
वो शकःस जिसे हम जान्ते थे
आहट भेए सुनाई देतेए नहेएं
पर्छैइं से हम पह्चानते थे ||२||

हम भोओल गये हैं रख के कहेएं ....

Comments/Credits:

			 % Transliterator: Vinay P Jain
% Date: 2001-06-17
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image