Browse songs by

gunagunaataa hai giit gaataa hai ye samaa.N

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


गुनगुनाता है गीत गाता है ये समां
खिल रहे हैं गुल महक जाता है ये समां
खुश्बुओं में जैसे नहाता है ये समां
हम हैं जो इस पल यहाँ
बादल भी परबत भी नदियाँ भी धारे भी
सारे नज़ारे थे गुमसुम
जागी हवाएँ हैं जागी फ़िज़ाएँ हैं
आए यहाँ हैं जो हम तुम
गुनगुनाता है ...

दिल पे जो बोझ थे वो सारे हल्के हुए
ज़िंदगी में नए रंग हैं छलके हुए
ज़ुल्फ़ें हैं खुल गईं
आँचल हैं ढलके हुए
होंठों पे जो सपने सजाता है ये समां
हर नज़र में जादू जगाता है ये समां
नई दास्तान कोई सुनाता है ये समां
हम हैं जो इस पल ...

प्यार की रागिनी जबसे हमने सुनी
तबसे है राहों में ठंडी सी इक रोशनी
राह कैसी हसीं हम दोनों ने है चुनी
हमसे मिलके जो मुस्कुराता है ये समां
रूप कितने प्यारे दिखाता है ये समां
हर घड़ी को दिलकश बनाता है ये समां
हम हैं जो इस पल ...

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image