Browse songs by

ek do tiin chaar paa.Nch chhe aur saat

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


एक दो तीन चार पाँच छे और सात
सात साथी खेल खेलें छूट न जाये साथ

( गई ओ गई ओ गई गई गई
पीली जिसकी साड़ी
निकली बड़ी अनाड़ी
रह गए छे खिलाड़ी ) -२
एक हारे एक जीते शरम की क्या है बात -२
छे साथी खेल खेलें छूट न जाये साथ

( गई ओ गई ओ गई गई गई
नीली जिसकी अँखियाँ
मीठी जिसकी बतिया
रह गई पाँच ही सखियाँ) -२
एक हारे एक जीते शरम की क्या है बात -२
पाँच साथी खेल खेलें छूट न जाये साथ

( गई ओ गई ओ गई गई गई
नाम था जिसका राखी
जिसने की चालाकी
रह गई तीन ही बाकी )
एक हारे एक जीते शरम की क्या है बात -२
तीन साथी खेल खेलें छूट न जाये साथ

Comments/Credits:

			 % Transliterator: Surma Bhopali
% Date: 24 Sep 2004
% Series: GEETanjali, THGHT
% generated using giitaayan
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image