Browse songs by

e sakhii raadhike baa.Nvarii ho ga_ii

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


ए सखी राधिके बाँवरी हो गई
श्याम को ढूँढ़ते आप ही खो गई

गली-गली में गोकुल की यह नाम पुकारे, श्याम पुकारे
बैठी है जमुना किनारे
कभी मेरे कभी तेरे घर को गई

कभी कहीं पे मिल भी गया वह अनजाना
बँसी बजी पी ने पुकारा
बँसी में कैसे खोई वह सो गई

Comments/Credits:

			 % Date: 9 Dec 2002
% generated using giitaayan
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image