Browse songs by

duniyaa me.n Gariibo.n ko aaraam nahii.n milataa

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


दुनिया में ग़रीबों को आराम नहीं मिलता
रोते हैं तो हँसने का पैग़ाम नहीं मिलता

ग़ुरबत की कहानी है आँखों की ज़ुबानी है
आग़ाज़ को रोते हैं अंजाम नहीं मिलता

सौ जाम ग़रीबी के क़िसमत ने पिलाये हैं
जिस जाम में राहत है वो जाम नहीं मिलता

जो कोई भी आता है ठोकर ही लगाता है
मर के भी ग़रीबों को आराम नहीं मिलता

Comments/Credits:

			 % Date: 07 jan 2003
% Credits: Urzung Khan
% Comments: Geetanjali Series.
%    The film booklet mentions only Behzaad as the
%    song's lyricist; but according to Qamar Jalalabai,
%    this is his first Hindi Film song. Behzaad only added
%    the last line or two.
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image