Browse songs by

dhuup me.n nikalaa na karo ruup kii raanii

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


कि : धूप में निकला न करो रूप की रानी
गोरा रंग काला ना पड़ जाए -२
मस्त मस्त आँखों से छलकाओ न मदिरा
मधुशाला में ताला न पड़ जाए
धूप में निकला न ...

तुम जो थक गई हो तो बाँहों में उठा लें -२
हुक़्म दो हमें तो अभी पालकी ला दें
पंथ है पथरीला पैदल न चलो तुम -२
कहीं पाँव में छाला न पड़ जाए
धूप में निकला न ...

आ : धूप हो या छाँव सजन मैं तो आऊँगी -२
तुमसे मिलने आग पे भी चल के आऊँगी
एक पल भी तन्हा तुम्हें छोड़ूँ तो कैसे -२
किसी सौतन से पाला न पड़ जाए
कि : धूप में निकला न ...

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image